Loudspeaker Controversy: लाउडस्पीकर पर चल रहे विवाद पर पटना के हिंदू मुस्लिम धर्म ने दिखाई एकता, लड़ाई करने की वजह दोनो धर्मो ने अपनाया ये रास्ता जानिए

loudspeaker-controversy patna-bihar

Loudspeaker Controversy : आजकल कई बड़े मंदिरो और मज़्जिदो में लगे लाउड स्पीकर को लेकर काफ़ी बवाल हो रहा है। राज्ये के बड़े बड़े नेता भी इस मुद्दे पर अपनी राय प्रस्तुत कर रहे है। साथ ही बड़े बड़े खबरों के टीवी चेंनल में यह बात छिड़ी जा रही है। और इन मदिर और मस्जिद में लगे लाउड स्पीकर को हटाने के लिए भी कहा जा रहा है। लेकिन इसी बीच पटना में हमें एक अलग ही तस्वीर देखने को मिलती है। वहाँ हिन्दू और मुस्लिम दोनों ही धरम के लोगो के द्वारा एक दूसरे पर प्यार बाटा जा रहा है। और दोनों ही धरम के लोग एक दूसरे की आस्था का ख्याल रख रहे है।

मंदिर और मस्जिद केवल 50 मी. की दुरी
loudspeaker-controversy patna-bihar 

जहाँ दोनों धर्म के लोग एक दूसरे के मंदिर और मस्जिद में लगे लाउड स्पीकर को लेकर लड़ रहे है। वही पटना के मंदिर और मस्जिद में लगे लाउड स्पीकर से उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। वहाँ मंदिर और मस्जिद केवल 50 मी. दूर है। वहाँ के लोग इस बात का ख्याल रखते है कि एक दूसरे के पूजा और नमाज़ के दौरान एक दूसरे को ठेस न पहुंचे। इनके बीच एक दूसरे के मंदिर मस्जिद में लगे स्पीकर को लेकर कोई भी दिक्कत नहीं है और ना ही वह कभी एक दूसरे के स्पीकर को लेकर लड़ते है।

मस्जिद के लोगो द्वारा पिलाई गई शरबत 

loudspeaker-controversy patna-bihar

ए एन आई के द्वारा कई गई बात चित में वहाँ के मज़्जिद के अध्यक्ष फैसल इमाम द्वारा यह बात भी बताई गई कि वैसे तो पुरे दिन मंदिर में भजन और कीर्तन बजते ही रहते है। लेकिन जैसे ही अजान का समय होता है तो उनके द्वारा लाउड स्पीकर को बंद कर दिया जाता है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया रामनवमी के समय जब मंदिर में जाने वाले भक्तो के लिए मस्जिद के लोगो द्वारा उन लोगो को शरबत भी पिलाई गई थी। क्योंकि वह लोग धुप में मस्जिद के सामने क़तर में खड़े थे।

एक दूसरे की करते है मदद 

साथ ही महावीर मंदिर के अध्यक्ष किशोर कुणाल द्वारा बताया गया कि मंदिर और मस्जिद के लोग हमेशा ही एक दूसरे की मदद करते है। और इसके अलावा उन दोनों के लोगो को एक दूसरे के अजान और भजन-कीर्तन कोई दिक्कत नहीं है। और हम लोगो के बीच भाई चारा बना हुआ है। वह एक दूसरे के अजान और भजन-कीर्तन के समय अपने लाउड स्पीकर को बंद कर देते है ताकि एक दूसरे को दिक्कत न हो।

इस पर मुख्यमंत्री नितीश कुमार का बयान 

बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने यह भी कहा है कि सरकार किसी ऐसे मामले में कोई भी निर्णय नहीं करेगी जिससे किसी के भी धर्म पर ठेस पहुंचे साथ ही वह किसी भी धरम के खिलाफ और सहमति में एक शब्द भी नहीं कहेंगे। वह किसी भी धर्म के विरुद्ध नहीं है।

उत्तर प्रदेश के मंदिरों और मस्जिदों से हतय गए स्पीकर 

साथ ही बात करें उत्तर प्रदेश की तो योगी आदित्यनाथ द्वारा सभी धर्म स्थलों में से लाउड स्पीकरों को हटाने की बात कही थी। जिसके बाद सुबह 7 बजे तक 53,942 लाउड स्पीकरों को हटा दिया गया है। लेकिन अभी भी कई धार्मिक स्थल है जहाँ के लाउड स्पीकर नहीं हटाए गए है। लेकिन उन स्थलों से लाउड स्पीकरो को हटाने की बात एक बार फिर से कही गई है।

About Vipul Kumar

मैं एक हिंदी और अंग्रेजी लेखक और फ़्रंट एंड वेब डेवलपर हूं। वंदे मातरम

View all posts by Vipul Kumar →

Leave a Reply

Your email address will not be published.